Sunday, February 25,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
बिज़नेस

RBI का बट्टाखाता ऋण से निपटने के लिए संशोधित दिशानिर्देश जारी

Publish Date: February 14 2018 10:25:45am

मुंबई(उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने गैर निष्पादित अस्तियों (एनपीए) या बट्टाखाता ऋण के तेजी से समाधान के लिए एक संशोधित रूपरेखा पेश की है। इसे दिवाला एवं दिवालियापन संहिता (आईबीसी), 2016 के निर्दिष्ट मानदंडों के साथ मौजूदा दिशानिर्देशों के अनुरूप बनाया गया है। आरबीआई ने सोमवार को जारी की गई एक अधिसूचना में कहा है कि नए दिशानिर्देश में बैंकों की प्रभावी परिसंपत्तियों की पहचान व सूचना के लिए एक ढांचा निर्दिष्ट किया गया है।

आरबीआई की अधिसूचना में कहा गया, दिवाला एवं दिवालियापन संहिता (आईबीसी)2016 के अधिनियमन के मद्देनजर मौजूदा दिशानिर्देशों को प्रभावी परिसंपत्तियों के समाधान के अनुरूप एक सहज ढांचे से बदलने का फैसला किया गया है। संशोधित ढांचे के हिस्से के तौर पर बैंक को तत्काल चूक के आधार पर प्रभावी ऋण खातों की शुरुआत में पहचान करनी होगी। इनकी डिफाल्ट अवधि के आधार पर प्रभावी संपत्तियों के वर्गीकरण को विशेष उल्लेख खातों (एसएमए) के रूप में करना होगा। केंद्रीय बैंक ने कहा कि सभी ऋणदाताओं को प्रभावी परिसंपत्तियों के समाधान के लिए बोर्ड की मंजूरी वाली नीतियों को शामिल करना होगा, जिसमें समाधान के लिए समयसीमा भी शामिल है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


त्रिकोणीय टी20 सीरीज के लिए भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान, रोहित को टीम की कमान

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बांग्लादेश, श्रीलंका और भारत के बीच...

श्रीदेवी की मौत पर बड़ा खुलासा, इस एक्टर के दावे से सब हैरान

नई दिल्ली/दुबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): 54 साल की उम्र में अभिने...

top