Thursday, April 19,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल प्रदेश

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय 20 अप्रैल को उज्ज्वला दिवस के रूप में मनाएगी  

Publish Date: April 14 2018 12:55:47pm

सुंदरनगर / रोशन लाल बली: प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत अभी तक पूरे देश में लगभग तीन करोड़ छप्पन लाख एलपीजी कनेक्शन जारी किए जा चुके हैं। इस सफलता का अभिनंदन करने के लिए भारत सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 20 अप्रैल 2018 को उज्ज्वला दिवस के रुप में मनाया जा रहा है। 

इस योजना के जिला मंडी नोडल आफिसर संजय सिंगला ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे देश में 15000 स्वच्छ पंचायतों का आयोजन किया जाएगा इस संदर्भ में जानकारी मंडी जिला के नोडल ऑफिसर संजय सिंगला ने संवाददाता स मेलन में सुंदर नगर में कहा कि केंद्रीय मंत्री पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय भारत सरकार पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस के वरिष्ठ अधिकारी, तेल विपणन कंपनियों, ओएनजीसी और गेल के वरिष्ठ अधिकारी इस दिन देश के विभिन्न हिस्सों में स्वच्छ पंचायतों में भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को एक सिलेंडर, प्रैशर रेगुलेटर, सुरक्षा होस और गैस की कॉपी की जिसकी कीमत ?1600 रूपये है भारत सरकार द्वारा वहन की जाएगी। लाभार्थी को को केवल गैस चूल्हे और गैस की वर्तमान कीमत ही अदा करनी होगी। 

भारत सरकार गैस की कीमत के बैंक खाते में 203.80 रूपये की सब्सिडी वापस लौटा देगी। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश में भी 152 पंचायतों का जा रहा है और इसमें पूरी कोशिश है कि हर पंचायत में 500 महिलाएं शामिल की जाएं। इसके साथ ही ग्राम स्वराज अभियान जो कि 14 अप्रैल से 5 मई तक मनाया जा रहा है। उसमें भी हिमाचल प्रदेश के 93 गांव को शतप्रतिशत एलपीजी कवरेज करने की मुहिम जारी है। इस मुहिम में मंडी जिला की  27 पंचायतों में तहसील मंडी 11, सुंदरनगर 10, चच्योट से दो, औट से दो, जोगिंद्रनगर से दो और करसोग से एक का नाम शामिल हैं। उन्होंने बताया कि भारत सरकार की संशोधित रूपरेखा के अनुसार 1 अप्रैल 2018 से प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में लाभार्थियों का चयन बीपीएल परिवारों से होगा जो कि इन में से किसी एक श्रेणी के अंतर्गत आते हैं। जिनमें अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति के परिवार, प्रधानमंत्री आवास योजना, ग्रामीण अन्नपूर्णा योजना, वन निवासियों, अधिकांश पिछड़ा वर्ग, चाय और पूर्व चाय उद्यान जातियां शामिल है। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी बीपीएल कार्ड, अनुसूचित जाति जनजाति प्रमाण पत्र, अंतोदय योजना का कार्ड, प्रार्थी के दो फोटो, सभी परिवारों के सदस्यों, प्रार्थी के बैंक पासबुक प्रति, राशन कार्ड की प्रति साथ में लाना अनिवार्य है।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


IPL 2018 : कार्तिक ने किया धोनी जैसा कारनामा, हैरान होकर पेवेलियन लोटे अजिंक्‍य रहाणे

जयपुर (उत्तम हिंदू न्यूज) : आईपीएल सीरीज-11 में राजस्‍थान रॉयल्...

कठुआ रेप मामले पर चर्चा से घिन आती है: अमिताभ बच्चन

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन ने जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ जिले म...

top