Saturday, April 21,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

तीन तलाक पर प्रस्तावित कानून स्वीकार नहीं:मदनी

Publish Date: January 13 2018 05:08:56pm

देवबंद (उत्तम हिन्दू न्यूज): जमियत उलेमा-ए-हिंद के महासचिव एवं पूर्व सांसद महमूद मदनी ने कहा है कि तीन तलाक पर प्रस्तावित कानून मुसलमानों को स्वीकार नहीं होगा।मदनी ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि तीन तलाक के मसले पर केंद्र सरकार मुसलमानों के धार्मिक मामलों में दखल दे रही है। उन्होंने कहा कि मजहब-ए-इस्लाम में संसद या सरकार दखल देने का अधिकार नहीं रखती है। उन्होंने कहा कि एक साथ तीन तलाक की परंपरा बिल्कुल भी ठीक नहीं है और मुसलमानों को इसका इस्तेमाल भी नहीं करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्रस्तावित कानून में तलाक देने वाले पुरूष को जेल की सजा की व्यवस्था की गई है। जेल जाने की सूरत में महिला और बच्चों की देखभाल कौन करेगा। उन्होंने इस बात पर भी कड़ा ऐतराज जताया कि केंद्र को कानून बनाने से पहले शरीयत के जानकारों और मुस्लिम बुद्धिजीवियों से अवश्य विचार-विमर्श करना चाहिए था। महमूद मदनी से पहले देवबंद की इस्लामिक शिक्षण संस्था दारूल-उलूम के वाईस चांसलर मुफ्ती अबुल कासिम नौमानी भी इसी तरह के विचार व्यक्त कर चुके हैं। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


आईपीएल-11: जीत की पटरी पर लौटना चाहेंगे दिल्ली-बेंगलोर 

बेंगलुरू (उत्तम हिन्दू न्यूज): इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) क...

नई फिल्म के लिए कैटरीना से 5 गुना ज्यादा फीस लेंगे वरूण धवन

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो वरूण धवन अपनी आने वाली फिल्म के लिये 3...

top