Sunday, February 25,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

ओवैसी को सेना का करारा जवाब- 'शहीदों का कोई धर्म नहीं होता'

Publish Date: February 14 2018 01:21:51pm

नई दिल्ली(उत्तम हिन्दू न्यूज)- जम्मू-कश्मीर के सुंजवा और श्रीनगर में पिछले दिनों हुए आतंकी हमले में 6 जवान शहीद हुए थे और 11 लोग घायल हुए थे। जवानों की शहीदी और नेताओं के बिगड़े बोल ने देश में काफी विवाद खड़ा कर दिया है। AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जवानों के धर्म पर बयान दिया जिसके बाद सेना ने प्रतिक्रिया दी है। 

सेना ने शहीदों पर उठ रहे राजनीतिक बयानबाजी पर कहा कि बयान देने वाले सेना को नहीं जानते हैं, शहीदों का कोई धर्म नहीं होता है। सेना की नॉर्थन कमांड के चीफ लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अंबु ने कहा कि हम सेना में किसी की शहादत को सांप्रदायिक रंग नहीं देते हैं, सेना में सभी एक समान हैं। जो देश के खिलाफ हथियार उठाता है वह ही आतंकी है। हमारे यहां सर्व धर्म स्थल के मंत्र का पालन होता है। मेजर आदित्य से जुड़े मुद्दे पर उन्होंने कहा कि हमारा इस घटना से मनोबल नहीं गिरा है। सरकार इस मुद्दे पर हमारे साथ है और मामला अभी कोर्ट में है।

सेना ने कहा कि इस वक्त दुश्मन पूरी तरह से परेशान है, क्योंकि वह बॉर्डर पर कुछ नहीं कर पा रहा है। इसलिए इस तरह अंदर घुसकर हमले कर रहा है। उन्होंने कहा कि उरी हमले के बाद हमने करीब 364 करोड़ रुपए सेना के कैंपों की सुरक्षा पर खर्च किए हैं। हमारा लक्ष्य बॉर्डर पर घुसपैठ को रोकना है, जो भी घुसपैठ करता हुआ दिखा हमारा काम उसे मारना ही है। 

बता दें कि AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले पर विवादित बयान दिया था। ओवैसी ने कहा था कि आतंकी हमले में शहीद हुए छह जवानों में से पांच कश्मीरी मुस्लिम थे। ओवैसी ने कहा कि जो लोग मुसलमानों को पाकिस्तान जाने के लिए कहते हैं या उन्हें पाकिस्तानी समझते हैं, उन्हें यह देखना चाहिए।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


 टी-20 विश्व कप में हम अपने प्रदर्शन से सबको चौंका देंगे: मिताली

केपटाउन (उत्तम हिन्दू न्यूज): दक्षिण अफ्रीका दौरे पर ऐतिहासिक...

प्लास्टिक सर्जरी से हुई श्रीदेवी की मौत, वायरल मैसेज का दावा

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): श्रीदेवी की अचानक हुई मौत से ...

top