Sunday, September 24,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राजनीति

भारत पर दबाव

Publish Date: July 20 2017 02:12:08pm

भारत-चीन सीमा पर डोकलाम क्षेत्र में विवाद को लेकर चीन अब धमकी पर उतर आया है। उसने भारत से तुरंत अपने सैनिकों को हटाने की चेतावनी दी है। उसने कहा कि भारत को अपने राजनीतिक लक्ष्यों को हासिल करने के लिए डोकलाम में अनाधिकार प्रवेश नहीं करना चाहिए और किसी भी टकराव से बचने के लिए उसे अपनी सेना हटा लेनी चाहिए। इधर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलकर बॉर्डर के हालात की जानकारी दी। चीन से तनाव के मुद्दे पर लोकसभा में समाजवादी पार्टी ने स्थगन प्रस्ताव भी दिया था। उधर, केंद्रीय सरकार ने संसदीय समिति के सामने चीन सीमा पर विवाद पक्ष रखा।

पिछले एक महीने से भी ज्यादा समय से सिक्किम में डोकलाम बॉर्डर पर चीन और भारत की सेनाएं आमने-सामने हैं। मंगलवार को चीन ने तिब्बत में भारतीय बॉर्डर के पास युद्धाभ्यास किया। इसके बाद चीन ने भारत को भूटान-चीन-भारत ट्राइजंक्शन से सेना वापस बुलाने को कहा और चेतावनी दी। चीन ने बीजिंग स्थित विदेशी राजदूतों को भी सीमा तनाव से अवगत कराते हुए कहा है कि उसके संयम की सीमा अब खत्म हो रही है। चीनी सरकारी मीडिया ने भी युद्ध की चेतावनी भारत को दी है। सिक्किम सेक्टर की स्थिति के दीर्घकालिक रूप लेने के बीच चीनी मीडिया ने कहा है कि चीन को भारत के साथ गतिरोध के लिए तैयार हो जाने की जरूरत है। चीन के मीडिया ने साथ ही यह चेतावनी भी दी है कि इस तरह के अन्य संघर्षों से संपूर्ण वास्तविक नियंत्रण रेखा पर 'भीषण संघर्ष' छिड़ सकता है।

चीन के साथ-साथ पाकिस्तान भी पिछले कुछ समय से नियंत्रण रेखा के पास के क्षेत्रों पर लगातार गोलाबारी कर रहा है। पाकिस्तान द्वारा की जा रही गोलाबारी में मोर्टार और स्वचालित हथियारों का इस्तेमाल हो रहा है। पाक की गोलाबारी के कारण पिछले दिनों 200 से अधिक स्कूली बच्चों की जान खतरे में पड़ गई थी। सेना व स्थानीय पुलिस की मदद से बच्चों को बचाया जा सका।

भारत के धैर्य की परीक्षा ले रहे चीन व पाकिस्तान मिलकर भारत पर दबाव बना अपना स्वार्थ सिद्ध करने की जो कोशिश कर रहे हैं वह सफल होने वाला नहीं। चीन ने डोकलाम के पास पिछले दिनों युद्ध अभ्यास कर भारत को दिखाना चाहा कि चीन युद्ध के लिए तैयार है। चीन द्वारा भारत विरुद्ध जो माहोल बनाने का प्रयास शुरू किया है उसको देखते हुए अमेरिका, जापान सहित कई अन्य देश भारत के समर्थन में आगे आ रहे हैं। चीन का लक्ष्य तो दबाव बनाकर जमीन हथियाने का ही है। चीन की विस्तारवादी नीति के कारण ही उसका अपने पड़ोसी देशों के  साथ तनाव ही बना हुआ है। चीन को अपनी सैन्य शक्ति का अहंकार है और वह समझता है कि 1962 में जिस तरह उसने भारत को मार मारी थी शायद 2017 में भी वह उसी प्रकार की मार भारत को मार सकेगा। 1962 में भारत ने मार खाई तो चीन पर विश्वास करने के कारण। 

पं. नेहरू को चीन पर भरोसा था। लेकिन 1962 से लेकर आज तक शायद ही कोई भारतीय चीन पर आंखें बंद कर विश्वास करता हो। सरकार से लेकर समाज का प्रत्येक वर्ग चीन की नीतियों प्रति सतर्क है। इसलिए भारत सरकार जहां सीमा पर सुरक्षा प्रबंध मजबूत करने में लगी है, वहीं समाज चीनी उत्पादों का बहिष्कार करने की तैयारी में है। चीनी उत्पाद जो आम घरेलू इस्तेमाल में आते हैं उनको भारतीयों ने खरीदना कम कर दिया है। अब तो देश में चीनी उत्पाद विरुद्ध अभियान तेज होना शुरू हो गया है। अंतरराष्ट्रीय संधियों के कारण भारत अपने बाजार तो चीन उत्पादों के लिए बंद नहीं कर सकता लेकिन आम भारतीय अपने घर के दरवाजे तो चीन के उत्पादों के लिए बंद कर सकता है और कर रहा है। अगर चीन की नीति भारत प्रति बदलती नहीं तो यह अभियान तेज हो जाएगा।

 पाकिस्तान में नवाज शरीफ भ्रष्टाचार के मामले में फंसा हुआ है। लोगों का अपनी तरफ से ध्यान हटाने के लिए नवाज शरीफ सरकार कश्मीर घाटी में तनाव पैदा करने के लिए सीमा पर गोलाबारी कर रही है। भारत द्वारा दिए जा रहे जवाब के कारण पाक सरकार व सेना दोनों के मनसूबे सफल होते दिखाई नहीं दे रहे। पाकिस्तान, चीन के साथ मिलकर जो खेल खेल रहा है वह उसके लिए आत्मघाती ही है। पाकिस्तान अब चीन के शिकंजे में जकड़ता चला जा रहा है। दुनिया में सिवा चीन के अब कोई उसके साथ खड़ा दिखाई नहीं दे रहा।

भारत, चीन और पाकिस्तान के दबाव को महसूस तो कर रहा है लेकिन भारत घबराहट में नहीं है, क्योंकि भारत एक मजबूत आधार पर खड़ा है और उसके साथ अमेरिका, जापान, इंग्लैंड, फ्रांस सहित कई बड़े देश खड़े हैं। अगर चीन के साथ युद्ध की नौबत आ जाती है तो भारत के साथ उसके मित्र देश भी खड़े होंगे। भारत का पहला प्रयास तो यह ही है कि युद्ध न हो, लेकिन अगर युद्ध की नौबत आ ही जाती है तो भारत उसके लिए भी तैयार है।


इरविन खन्ना, मुख्य संपादक, दैनिक उत्तम हिन्दू।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


इंदौर वनडे : फिंच का शतक, भारत को 294 रनों का लक्ष्य

इंदौर (उत्तम हिन्दू न्यूज): पिछले दो मैचों से चोट के कारण बाहर ...

पंजाबी फिल्मोद्योग के विकास से उत्साहित गिप्पी ग्रेवाल

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): हिंदी और पंजाबी फिल्मों में अ...

top