Friday, September 22,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

डॉक्टर का खुलासाः प्रद्युम्न के शरीर पर नहीं मिले यौन शोषण के सबूत 

Publish Date: September 12 2017 06:01:18pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के पीछे किसी बड़ी साजिश के होने का शक लगातार गहराता जा रहा है। दरअसल, प्रद्युम्न के शरीर पर यौन शोषण से संबंधित किसी तरह के कोई निशान नहीं मिले हैं। सरकारी डॉक्टर दीपक माथुर का कहना है कि बच्चे की मौत उसके शरीर में से ज्यादा खून बहने के वजह से हुई, क्योंकि कातिल ने उसकी गर्दन पर चाकू से दो वार किए थे। प्रद्युमन के शव की जांच करने वाले सरकारी डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि उसकी मौत का कारण ज्यादा खून बह जाना था। उन्होंने साफ किया कि बच्चे के शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।

उधर, हरियाणा पुलिस ने कहा है कि रेयान स्कूल के दूसरी कक्षा के छात्र सात वर्षीय प्रद्युम्न की हत्या की घटना में बस कंडक्टर अशोक कुमार ही शामिल था। सोहना के सहायक पुलिस आयुक्त बिरेम सिंह ने संवाददाताओं से कहा कि हत्या के आरोप में गिरफ्तार बस कंडक्टर अशोक कुमार से पूछताछ पूरी कर ली गई है। पुलिस को जो भी जानकारी चाहिए थी वह उसने बता दी है और पुलिस उससे की गई पूछताछ से संतुष्ट है। सिंह ने कहा कि यह स्पष्ट हो गया है कि प्रद्युम्न की हत्या की घटना में केवल अशोक कुमार ही शामिल था। उसने ही छात्र की हत्या की और इस घटना में कोई अन्य व्यक्ति शामिल नहीं था। स्कूल प्रबंधन की लापरवाही के संबंध में पूछे जाने पर सिंह ने कहा कि यह मामला अलग है और इस बारे में दो लोगों से पूछताछ की जा रही है। दो छात्रों ने बताया है कि प्रद्युम्न की हत्या से पहले बस कंडक्टर शौचालय में मौजूद था। गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त के शनिवार के इस बयान पर कि इस घटना में आरोप पत्र सात दिन के भीतर दाखिल कर दिया जाएगा। सिंह ने कहा कि वह अपनी तरफ से इसके लिए पूरी कोशिश करेंगे। गौरतलब है कि गुरुग्राम के रेयान स्कूल में पढऩे वाले दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की शुक्रवार को चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। 

बता दें कि आरोपी बस कंडक्टर अशोक को तीन दिन की पुलिस रिमांड के बाद सोहना कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 18 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. सोहना कोर्ट में पेशी के लिए लाए गए आरोपी अशोक पर लोग भड़क गए और पीटने की कोशिशों के बीच काफी हंगामा हुआ। गौरतलब है कि आरोपी कंडक्टर खुद मीडिया के सामने ये बात कबूल चुका है कि उसने प्रद्युम्न के साथ यौन शोषण करने की कोशिश के दौरान उसकी हत्या कर दी। वहीं दूसरी ओर बच्चे के परिजन इसके पीछे किसी बड़ी साजिश का आरोप लगा रहे हैं। परिजनों का कहना है कि हो सकता है कि उनके बच्चे ने स्कूल में चल रहे किसी गलत काम को देख लिया हो और इसी वजह से उसकी हत्या कर दी गई।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


बैडमिंटन : प्रणॉय हारे, प्रणव और सिक्की सेमीफाइनल में

टोक्यो (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के एचएस प्रणॉय यहां जारी जापान ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट क...

राजकुमार राव की 'न्यूटन' जाएगी ऑस्कर, आज ही हुई है रिलीज

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बरेली की बर्फी में शानदार अभिनय क...

top