Monday, September 25,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
बिज़नेस

फर्जी कंपनियों से जुड़े 1 लाख डायरेक्टर्स की पहचान, डिसक्वालिफाई करने की तैयारी में सरकार 

Publish Date: September 12 2017 07:57:44pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : कालेधन के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही मोदी सरकार अब शेल कंपनियों से जुड़े डायरेक्टर्स पर शिकंजा कसने जा रही है। बताया जा रहा है कि कंपनी मामलों के मंत्रालय ने ऐसे 1 लाख से ज्यादा डायरेक्टर्स की पहचान की है, जो शेल कंपनियों से जुड़े हुए थे। एक सप्ताह पहले ही सरकार ने कालेधन पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 2 लाख से ज्यादा कंपनियों के बैंक अकाउंट पर रोक लगा दी थी और इनके रजिस्ट्रेशन भी रद्द कर दिए थे। वित्त मंत्रालय के मुताबिक, नियमों के लगातार उल्लंघन के चलते यह कदम उठाया गया है। कॉर्पोरेट अफेयर्स मिनिस्‍ट्री के मुताबिक, 2,09,032 कंपनियों के रजिस्‍ट्रेशन रद्द किए गए हैं। इस कार्रवाई के बाद इन कंपनियों के डायरेक्टर और अथोराइज्ड सिग्नेट्री अब एक्स डायरेक्टर और एक्स अथोराइज्ड सिग्नेट्री हो गए है। दूसरे शब्दों में कहें तो ये लोग तब तक कंपनियों के बैंक अकाउंट से कोई ट्रांजेक्‍शन नहीं कर सकेंगे, जब तक कंपनी फिर से कानूनी तौर पर मान्य नहीं हो जाती है।  

इससे पहले बीती 30 अगस्त को वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया था कि 3 लाख रजिस्‍टर्ड कंपनियां रडार पर हैं, जबकि 1 लाख कंपनियों पर कार्रवाई की तैयारी चल  रही है। सरकार ने पहले ही 37 हजार से ज्‍यादा शेल कंपनियों की पहचान की थी, जो हवाला कारोबार और ब्‍लैकमनी को छुपाने में जुटी थीं। बीती एक जुलाई को चार्टर्ड अकाउंटेंट्स के एक कार्यक्रम के दौरान देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार खुलासा किया था कि नोटबंदी के बाद देश की 3 लाख से ज्यादा रजिस्टर्ड कंपनियां शक के घेरे में हैं। क्योंकि, इनका लेनदेन संदिग्ध नजर आ रहा है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


खेल के साथ दूसरी चीजें भी जरूरी : हरमनप्रीत

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज़) : हाल ही में एक फैशन शो में रै...

फिल्म 'फन्ने खान' के लिए उत्साहित है ऐश्वर्या राय

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज़) : अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन ने ...

top