Thursday, September 21,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

पूरी क्षमता के साथ नहीं हुई थी आधार लांचिंग : जेटली 

Publish Date: September 13 2017 11:40:34am

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जब आधार कार्ड की योजना लाई गई थी तब इसकी क्षमता का पूरा उपयोग नहीं किया गया, बल्कि इसे एक प्रयोग के तौर पर लांच किया गया था और इसको विकसित करने का विचार था। वह बुधवार को नई दिल्ली में संयुक्त राष्ट्र की ओर से आयोजित वित्तीय समावेश के सम्मेलन को संबोधित करते थे।

जेटली ने भरोसा जताया कि आधार कानून संवैधानिकता की परीक्षा में खरा उतरेगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत अब तक 30 करोड़ खाते खुल चुके हैं और उनमें से मात्र 20 प्रतिशत ऐसे खाते हैं जिनमें धनराशि जमा नहीं हुई है। जेटली ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा यहां आयोजित वित्तीय समावेशन सम्मेलन का शुभारंभ करते हुए कहा कि तीन वर्ष पहले जब यह योजना शुरू हुयी थी तब 77 प्रतिशत ऐसे खाते थे जिनमें धनराशि जमा नहीं हुयी थी लेकिन अब ऐसे खातों की संख्या घटकर 20 प्रतिशत रह गयी है।

उन्होंने कहा कि इन खातों को सिर्फ खोलना ही काफी नहीं है बल्कि इन्हें संचालित करने की भी आवश्यकता है। इसके मद्देनजर केन्द्र और राज्य सरकारों की कई योजनाओं के लाभ सीधे लाभार्थियों के जन-धन खाते में जमा कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जन-धन खातों को संचालित करने के लिए चौतरफा पहल करने की जरूरत है। उन्होंने सरकारी संसाधनों को जरुरतमंदों के लिए लक्षित करने की आवश्यकता बताते हुए कहा कि पिछले तीन वर्षों में ऐसे मुद्दे केन्द्र बिंदु में लाए गए हैं जिन्हें पहले मुद्दा माना ही नहीं जाता था। जेटली ने कहा कि नोटबंदी से अनौपचारिक अर्थव्यवस्था औपचारिक बन गई है और इससे न केवल कर आधार बढ़ाने में मदद मिली है बल्कि नगदी लेन-देन में भी कमी आई है। नोटबंदी के बाद डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा दिया गया था जिसका असर अब दिखने लगा है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


कोलकाता वनडे : विराट शतक से चूके, भारत के 252

कोलकाता  (उत्तम हिन्दू न्यूज) : कप्तान विराट कोहली (92) अपने 31...

top