Tuesday, November 21,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

देशप्रेम : शहीद की पत्नी परिश्रम से बनीं लेफ्टिनेंट

Publish Date: September 13 2017 06:33:07pm

सागर (उत्तम हिन्दू न्यूज़) : यदि ठान ले तो इंसान क्या नहीं कर सकता, मध्यप्रदेश के सागर की श्रीमती निधि दुबे ने यह साबित कर दिखाया है। अपने सैनिक पति के निधन के बाद उन्होंने कड़े परिश्रम से लेफ्टिनेंट के रूप में कमीशन लिया है। यहां स्थित महार रेजीमेंटल सेंटर के सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार रेजीमेंट में नायक मुकेश दुबे लिपिक के पद पर तैनात थे। 23 अप्रैल 2009 को दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया था। पति की मृत्यु के पांच माह बाद उनकी पत्नी निधि दुबे ने एक पुत्र को जन्म दिया और न केवल अपने बेटे को सेना में भेजने का निर्णय ले लिया, अपितु वे स्वयं को भी देश के प्रति समर्पित करना चाहती थीं। 


श्रीमती दुबे ने सागर के मकरोनिया स्थित अपने पिता के घर रहकर अपने सपनों को साकार करने के लिये कठिन परिश्रम प्रारंभ किया। उन्होंने इंदौर से एच आर मैनेजमेंट में एमबीए करने के उपरांत एक निजी कंपनी में लगभग 18 माह तक कार्य किया। उसी दौरान उन्होंने महार रेजीमेंटल सेंटर के कमांडेंट से मुलाकात कर सेना में अधिकारी बनने की इच्छा जाहिर की। 


श्रीमती दुबे ने महार रेजीमेंटल सेंटर के सेवा चयन प्रशिक्षण केंद्र से जुलाई 2015 में प्रशिक्षण पूर्ण किया। इसके साथ साथ अपने दैनिक जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिये आर्मी स्कूल में अध्यापन कार्य भी किया। सवा वर्ष पूर्व श्रीमती दुबे सेना की महिला विशेष प्रवेश योजना के तहत बेंगलुरू में सेवा चयन केंद्र से चयनित हुई। चेन्नई के अधिकारी प्रशिक्षण केन्द्र में नौ माह के कठिन प्रशिक्षण के उपरांत उन्होंने हाल में आर्डिनेंस कोर में एक लेफ्टिनेंट के रूप में कमीशन लिया है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


चोट के कारण पहले टेस्ट से बाहर नहीं होऊंगा : वार्नर


 ब्रिस्बेन (उत्तम हिन्दू न्यूज): एशेज सीरीज से पहले आ...

जया बच्चन को फिल्म स्क्रीनिंग में बुलाने से डरते हैं करण


 मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बॉलीवुड के निर्देशक-निर्...

top