Thursday, September 21,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हरियाणा

सरकार का सपना किसान की आय हो एक लाख प्रति एकड़ : धनखड़

Publish Date: September 13 2017 08:58:59pm

कुरुक्षेत्र (पंकज अरोड़ा):  हरियाणा के कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि प्रदेश के एक-एक किसान की आय प्रति एकड़ एक लाख रुपए पहुंचाना राज्य सरकार का सपना है। इस सपने को पूरा करने के लिए दुध का उत्पादन बढ़ाकर देश का प्रथम स्थान का राज्य बनाने, दिल्ली के 26 हजार करोड़ के बाजार पर प्रदेश के किसानों की खाद्य सामाग्री पहुंचाकर कब्जा करने जैसी अनेक योजनाओं को अमलीजामा पहनाऐगी। कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ बुधवार को कुरुक्षेत्र की नई अनाज मंडी में किसान जमावड़ा कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसानों और खेती के लिए सरकार ने ठोस योजनाएं लागू की हैं। किसान को जोखिम फ्री बनाने के अलावा बागवानी, पैरी अर्बन एग्रीकल्चर, हर खेत को पानी, जैविक खेती सहित अनेक योजनाओं से किसान आधुनिक खेती के साथ आगे बढ़ रहा है। किसान की आय 2022 तक दौगुनी करने के लिए किसानों को हम मार्किट के साथ भी जोड़कर सरकार ने जोखिम फ्री बनाया है। हरियाणा देश का पहला राज्य है जिसका किसान या तो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कवर है या फिर 12 हजार प्रति एकड़ की मुआवजा योजना में कवर है। उन्होंने किसान जमावड़ा कार्यक्रम में पहुंचे हजारों किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि अपने आप को किसानों का हितैषी कहने वाले भूपेंद्र सिंह हुड्डा स्वामीनाथन रिपोर्ट सहित अन्य सुविधाएं देने की बात कहते रहे जबकि राज्य सरकार ने किसानों के लिए वास्तव में इसे करके दिखाया है। मंत्री ने कहा कि किसान के चेहरे की ख़ुशी बनी रहे इसलिए प्रदेश सरकार उनकी आमदनी को बढ़ाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रही है।  उन्होंने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के अलावा अन्य बड़े सपने के हम देख रहे हैं । हम ऐसी व्यवस्था करना चाहते है कि किसानों को प्रति एकड़ प्रति वर्ष एक लाख की आय हो।
    हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने भाजपा के किसान मोर्चा को बधाई देते हुए कहा कि सरकार किसानों के हित में है और केन्द्र व हरियाणा में भाजपा की सरकार बनने पर भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहां के 80 प्रतिशत लोग खेती बाडी पर निर्भर है। उन्होंने स्पष्ट किया कि केन्द्र व हरियाणा में भाजपा की सरकार बनने पर दोनों सरकारों ने जनहित में कार्य किए हंै। उन्होंने कहा कि 2014 के बाद से किसानों के हर उत्पाद का दाना-दाना खरीदा जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार द्वारा पिछली सरकारों के समय के फसल खराबा मुआवजा के लिए भी 343 करोड रूपये की राशि किसानों को प्रदान की गई है।
    लाडवा विधायक डा. पवन सैनी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने धान और गेहंू के न्यूनतम मुल्य में रिकाड़ तोड़ वृद्धि करने का काम किया। उन्होंने कृषि मंत्री के समक्ष किसानों की वकालत करते हुए कहा कि धान पर 400 रुपए बोनस दिया जाए और लाडवा और शाहबाद हल्के में टमाटर व आलू की फसल की लिए न्यूनतम मुल्य निर्धारित किया जाए और फुड प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित की जाए। इसके अलावा सरकारी कोल्ड स्टोर भी बनाए जाए। 
    इस सम्मेलन में भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य एवं पूर्व मंत्री बलबीर सैनी, राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य अव्वल सिंह राणा, प्रदेश महामंत्री राजकुमार सैनी, भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष मंदीप सिंह विर्क, भाजपा जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, रविन्द्र सांगवान आदि ने भी अपने विचार रखे। इस सम्मेलन में जिलाध्यक्ष मंदीप सिंह विर्क व अन्य पदाधिकारियों ने कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी, प्रदेशाध्यक्ष समय सिंह भाटी, विधायक सुभाष सुधा, विधायक डा. पवन सैनी, जिलाध्यक्ष धर्मवीा मिर्जापुर को पगड़ी व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अनुसूचित मोर्चा के अध्यक्ष रामपाल पाली, सुशील राणा, गुरपाल सिंह, गुरनाम मलिक, मुल्ख राज गुम्बर, विनित क्वात्रा, धर्मवीर खेड़ी, जसविन्द्र सैनी, मुख्त्यार सिंह, तिलक राज, मांगे राम कौशिक, खेमचंद टबरा, प्रेम गुर्जर आदि उपस्थित थे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


कोलकाता वनडे : विराट शतक से चूके, भारत के 252

कोलकाता  (उत्तम हिन्दू न्यूज) : कप्तान विराट कोहली (92) अपने 31...

top