Tuesday, February 20,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
अजब गज़ब

आगरा में एक शिक्षक 47 कॉलेजों में लेक्चरर, जानिए पूरा मामला 

Publish Date: November 08 2017 11:33:26am

आगरा (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तरप्रदेश के आगरा में शिक्षा व्यवस्था को ठेंगा दिखाने वाला एक मामला सामने आया है। जहां भीमराव अंबेडकर यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों में एक ही शिक्षकों के नाम कई कॉलेजों में बतौर लेक्चरर दर्ज हैं।

एक लिस्ट सोशलमीडिया पर कई दिनों से वायरल हो रही है। इस पोस्ट में एमएड संचालित करने वाले कॉलेजों में एक ही शिक्षकों के कई कॉलेजों में पढ़ाने की बात लिखी थी। इस पोस्ट के साथ शिक्षकों के नामों की लिस्ट भी अटैच थी। एक ही दिन में यह पोस्ट यूनिवर्सिटी के शिक्षकों, छात्रों और यूनिवर्सिटी प्रशासन तक पहुंच गई। इस लिस्ट में 31 लेक्चर के नाम थे जो 100 कॉलेजों में काम कर रहे थे। आगरा यूनिवर्सिटी से 550 कॉलेज संबद्ध हैं जो एमएड का कोर्स कराते हैं। लिस्ट के 31 शिक्षकों के नाम इन सभी कॉलेज की लिस्ट में किसी न किसी तरह शामिल हैं। लिस्ट में एक आशीष कुमार नाम के शिक्षक का नाम है। यूनिवर्सिटी की जांच में पता चला कि आशीष एक साथ 47 कॉलेजों में लेक्चरर हैं। हरीश चंद 28 कॉलेजों में पढ़ा रहे हैं। वहीं माधव पचौरी 23 कॉलेजों में तो अंजना गौतम 21 कॉलेजों में शिक्षिक हैं। ब्रजेश वर्मा 20 कॉलेजों में तो सोमनाथ शर्मा 21 कॉलेजों में पढ़ाते हैं। नीरज तिवारी, शालिनी शर्मा का नाम 20 कॉलेजों की लिस्ट में है। ये सभी आगरा के संबद्ध कॉलेजों में लेक्चचर हैं। 

यह घपला कई वर्षों से चल रहा है। इसके बाद आगरा यूनिवर्सिटी प्रशासन ने इस मामले में जांच कमिटी गठित की। यूनिवर्सिटी के अधिकारियों ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आने के बाद अब यूनिवर्सिटी प्रशासन कार्रवाई की तैयारी कर रहा है। अब इस पर जांच हो रही है कि किस तरह से ये शिक्षक प्राइवेट स्कूलों में एक साथ पढ़ाते थे। इस मामले पर कार्रवाई की जा रही है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


मार्कराम को कप्तान चुनना सही फैसला नहीं था : स्मिथ

जोहांसबर्ग (उत्तम हिन्दू न्यूज):  दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम ...

 लाल बहादुर शास्त्री को समर्पित फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' की शूटिंग दिल्ली में हुई 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज):  फिल्मकार विवेक अग्निहोत्री न...

top