Tuesday, December 12,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल प्रदेश

आनी कांग्रेस के 5 नेता पार्टी से निष्कासत

Publish Date: December 03 2017 10:58:41am

कुल्लू/राजीव शर्मा : आनी विधानसभा क्षेत्र के पांच कांग्रेस नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया है। इन कांग्रेस नेताओं पर विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी के खिलाफ काम करने का आरोप है। जिला कांग्रेस ने आनी विधानसभा क्षेत्र में  कार्रवाई करते हुए पांच नेताओं को छह वर्ष के लिए पार्टी से बाहर कर दिया है। बाहर किए गए नेताओं में  मार्केटिंग बोर्ड लाहुल एवं कुल्लू के चेयरमेन उपेंद्र कांत मिश्रा भी शामिल है। शनिवार को जिला कांग्रेस कमेटी कुल्लू ने जो प्रस्ताव प्रधान ब्लॉक कांग्रेस कमेटी आनी व निरमंड ने विधानसभा चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों व कांग्रेस प्रत्याशी परस राम के विरूद्ध काम करने वाले नेताओं के खिलाफ भेजा था उन पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष ने त्वरित कार्रवाई की है। जिला अध्यक्ष बुद्धि सिंह ठाकुर ने इसकी अधिसूचना निकालते हुए कहा है कि पार्टी विरोधी काम करने वाले पांच कांग्रेस कार्यकर्ताओं व नेताओं को प्राथमिक सदस्यता से जिला कांग्रेस कमेटी कुल्लू छ: वर्ष के लिए तुरंत प्रभाव से निष्कासित करती है। 
जिन लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया है उनमें बंसी लाल पुत्र चमारू राम गांव टोगी डाकघर ढैर तहसील आनी जिला कुल्लू, सतपाल पुत्र श्याम दास गांव रछोग डाकघर कंडागई तहसील आनी जिला कुल्लू, युपेंद्र कांत मिश्रा पुत्र लोकनाथ गांव सिरकोटी डाकघर निरमंड जिला कुल्लू, कुलवंत कश्यप पुत्र चंद्र प्रकाश कश्यप गांव व डाकघर निरमंड जिला कुल्लू, सतपाल पुत्र चैन राम गांव काहवी डाकघर ओलवा तहसील आनी जिला कुल्लू शामिल हैं। इसके अतिरिक्त जिला कांग्रेस कमेटी कुल्लू ने वर्तमान विधायक खूब राम आनंद को भी पार्टी विरोधी कार्य करने के लिए हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी को छ: साल के लिए निष्कासन करने के लिए सिफारिश की है। पूर्व विधायक खूब राम पर भी आरोप लगे हैं कि उन्होंने पार्टी विरोधी काम किया है और आनी में पार्टी प्रत्याशी के लिए काम न करके दूसरे दलों के प्रत्याशियों का साथ दिया है। गौर रहे कि आनी विधानसभा क्षेत्र में सीटिंग एमएलए खूब राम का टिकट कट गया था जिस कारण खूब राम पार्टी से निराश चल रहे थे। इसके बाद आनी में कांग्रेस पार्टी ने बंसी लाल को टिकट दिया लेकिन बाद में बंसी लाल का टिकट काट कर परस राम को चुनावी मैदान में उतारा था। बंसी लाल विपणन समीति के चेयरमेन उपेंद्र कांत मिश्रा के खासमखास माने जाते थे। बताया जा रहा है कि टिकट काटने के बाद बंसी लाल ने जहां पार्टी विरोधी कार्य किया वहीं, उपेंद्र कांत मिश्रा ने भी अपने प्रत्याशी के खिलाफ कार्य किया। इसी के साथ सतपाल, कुलवंत कश्यप व सतपाल ने भी कांग्रेस प्रत्याशी के खिलाफ जम कर काम किया। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


एचडब्ल्यूएल फाइनल्स : आस्ट्रेलिया ने अर्जेटीना को मात दे जीता खिताब

भुवनेश्वर (उत्तम हिन्दू न्यूज): पेनाल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ ब्ले...

top