Sunday, December 10,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
बिज़नेस

बाबा रामदेव ने दी चीन को चुनौती, इस क्षेत्र में किया बड़ा निवेश

Publish Date: December 05 2017 07:24:26pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने स्वदेशी उत्पादों से भारत सहित दुनियाभर में परचम लहराने के बाद अब योग गुरु बाबा रामदेव की नजरें सौर ऊर्जा से संचालित उपकरणों के उत्पादन पर है। गौरतलब है कि यह क्षेत्र काफी तेजी से उभर रहा है और फिलहाल इसमें चीने से आयात होने वाले सामानों का ही दबदबा है। एक साक्षात्कार में पतंजलि आयुर्वेद के प्रबंध निदेशक आचार्य बालकृष्ण ने कहा, स्वदेशी आंदोलन के साथ हम सोलर सेक्टर में उतरने जा रहे हैं। सोलर के साथ भारत के हर परिवार में बिजली की आपूर्ति की जा सकती है और हम इसे पूरा करने के लिए ही इस क्षेत्र में हैं। उन्होंने बताया कि पतंजली सोलर उत्पादों पर 100 करोड़ रूपये का निवेश करने जा रही है तथा ग्रेटर नोएडा में सोलर उत्पादों का उत्पादन जल्द ही शुरू करन वाली है।

इस साल की शुरुआत में ही पतंजलि ने नेविगेशन में मदद करने वाले उपकरण बनाने वाली कंपनी अडवांस नेविगेशन ऐंड सोलर टेक्नॉलजीज का अधिग्रहण किया है। फिलहाल इस कंपनी की उत्पादन क्षमता 120 मेगावॉट की है। इस क्षेत्र में निवेश करने से रामदेव की ब्रैंड पावर पतंजली की सेल बढ़ाने मेें भी सहायता करेगी। भारत सरकार भी नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में अपने उद्देश्यों को पूरा करना चाहती है, लेकिन भारत में सोलर पावर इंडस्ट्री आगे बढऩे के लिए काफी संघर्ष कर रही है। फिलहाल भारत का सोलर मार्केट चीनी आयात से पटा पड़ा है। हाल ही में खराब गुणवत्ता वाले चीनी सोलर मॉड्यूल्स की रिपोर्टें आई थीं, जिसे डिवेलपर्स ने खारिज कर दिया तो सामान भारतीय बाजार में काफी सस्ते रेट पर बेचे गए।

भारत के सोलर मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ने कहा है कि चीन, ताइवान और मलयेशिया से आयात किए जाने वाले सौर उपकरण घरेलू उद्योगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इसके बाद इससे संबंधित विभाग डीजीएडी ने जुलाई में इस बात की जांच शुरू की कि क्या इन देशों से भारत में सौर उपकरणों को डंप किया जा रहा है? कुछ दिन पहले ही सोलर पैनल बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी, चीन की कंपनी ट्रीना सोलर ने मेक इन इंडिया प्लान के तहत 1000 मेगावॉट मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाने की योजना पर रोक लगा दी थी। इसके पीछे की वजह सकारात्मक नीतियों की कमी और कम दाम को बताया गया है। इन सबके बावजूद पतंजलि को इस सेक्टर में फायदा मिल सकता है क्योंकि उसके बाद ब्रैंड ऐंबैसड बाबा रामदेव हैं, जिनका भारत की एक बड़ी आबादी पर गहरा प्रभाव है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


धर्मशाला वनडे: श्रीलंका ने भारत को 7 विकेट से हराया

धर्मशाला (उत्तम हिन्दू न्यूज): तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल (13 रन प...

top