Tuesday, February 20,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
पंजाब

बाघापुराना में अकाली-कांग्रेसी भिड़े, उतरी पगड़ी, पुलिस ने किया लाठीचार्ज 

Publish Date: December 06 2017 06:44:58pm

मोगा (उत्तम हिन्दू न्यूज) : बाघापुराना में शहरी चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन अकाली -कांग्रेसियों में तीखी झड़पों दौरान कई लोगों की पगड़ी उतर गई। अकाली उम्मीदवारों ने सत्ताधारी पार्टी के नेताओं पर नामांकन पत्र फाडऩे के भी आरोप लगाऐ हैं। इस दौरान पुलिस को हलका लाठीचार्ज करना पड़ा। धर्मकोट में अकाली उम्मीदवारों की ओर से ऐतराज हीनता सर्टिफिकेट जारी न करने पर कौंसिल आधिकारियों खिलाफ नारेबाजी की। बाघापुराना में शिरोमणि अकाली दल शहरी प्रधान पवन ढंड की खींचतान एवं मारपीट कारण उसका कंधा निकल गया। उसे स्थानीय सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। इस मौके अकाली पूर्व चेयरमैन हरमेल सिंह मौड़, बलतेज सिंह लंगेआना और शिव शर्मा आदि अकाली समर्थकों को चोटे लगने कारण खून से लतपथ हो गए। इस मौके पुलिस की ओर से हलका लाठीचार्ज किया गया लेकिन थाना बाघापुराना प्रमुख इंस्पेक्टर जंगजीत सिंह रंधावा ने दावा किया कि लाठीचार्ज नहीं किया गया और दोनों गुटों की आपस में धक्का मुक्की हुई है। इस मौके अकाली नेताओं ने चुनाव अबजरवर तेजिंदर सिंह धालीवाल को इस धक्केशाही की लिखित शिकायत भी दी। 

इस मौके शिरोमणि अकाली दल जिला देहाती प्रधान तीर्थ सिंह माहला ने आरोप लगाया कि उनकी पार्टी की ओर से 2 दिसंबर को अपने सभी उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि ऐलाने अकाली उम्मीदवारों ने नगर कौंसिल दफ्तर में ऐतराज हीनता सर्टिफिकेट के लिए अर्जी दी थी। उन्होंने आरोप लगाया कि सत्ताधारी पार्टी के कथित इशारे पर कौंसिल अधिकारी यह सर्टिफिकेट जारी करने से टाल मटोल कर रहे थे, जब कि नामांकन दाखिल करने का आज अंतिम दिन था। उन्होंने कहा कि रिटर्निंग अधिकारी के दखल से उम्मीदवारों को ऐतराज हीनता सर्टिफिकेट मिलने बाद पुलिस ने उम्मीदवारों को नामांकन दाखिल करने से रोकी रखा तो स्थिति बिगड़ गई। उन्होंने आरोप लगाया कि इस मौके मौजूद सत्ताधारी पार्टी उम्मीदवारों और उनके समर्थकों ने साजिश तहत अकाली उम्मीदवारों से मारपीट की और उनके नामांकन पत्र भी फाड़ दिए। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेसियों की ओर से मारपीट में शिरोमणि अकाली दल के प्रधान पवन ढंड ओर अन्य कई समर्थक घायल हो गए। इस मौके यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता एवं पार्टी वक्त कमलजीत सिंह बराड़ ने अकालियों के आरोपों से इंकार करते कहा कि अकाली अपनी हार देखते झूठे आरोप लगा रहे हैं। 

यहां धर्मकोट नगर कौंसिल चुनाव के लिए भी अकाली उम्मीदवारों को कौंसिल आधिकारियों की ओर से ऐतराज हीनता सर्टिफिकेट जारी न करने के रोष में नारेबाजी की। इस के बाद रिटर्निंग अफसर के दखल से उन्हें सर्टिफिकेट जारी किये गए और कई उम्मीदवारों के कौंसिल दफ्तर में से अर्जियां ही गायब हो गई। शिरोमणि अकाली दल नेता बरजिंदर सिंह मक्खन बराड़ ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी पार्टी धक्केशाही से शहरी चुनाव जीतने के लिए हर हथियार इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने सत्ताधारी  पार्टी के कथित इशारे पर अकाली उम्मीदवारों के नामांकन रद्द खदसा जाहिर करते कहा कि लोकतांत्रिक ढंग से चुनाव करवाने का सत्ताधारी पार्टी जनाजा निकाल रही है। इस मौके पूर्व विधायक बलदेव सिंह भट्टी, पूर्व प्रधान गुरमेल सिंह सिद्धू, यूथ अकाली नेता परमिंदर डिंपल, पूर्व सरपंच नछत्तर सिंह और हरप्रीत सिंह रिकी ने आरोप लगाया कि सरकारी तंत्र पूरी तरह कांग्रेसी नेताओं का पक्ष ले रहा है। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


सेंचुरियन टी-20 : वनडे के बाद टी-20 सीरीज मे द.अफ्रीका का सफाया करने उतरेगा भारत 

सेंचुरियन (उत्तम हिन्दू न्यूज): विराट कोहली की कप्तानी वाली भ...

फिल्म के राइट्स बेचने पर फंसीं रजनीकांत की पत्नी, लौटाने होंगे 6.2 करोड़ रुपये

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): फिल्मों में राजनीति में कदम रखने वाले सुपरस्टार रजनीकांत म...

top