Tuesday, December 12,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हरियाणा

मासूम बच्ची की हत्या के मामले में पिता काबू

Publish Date: December 06 2017 08:44:51pm

फरीदाबाद(उत्तम हिन्दू न्यूज):  फरीदाबाद में बीते दिनों 4 साल की बच्ची की हत्या के मामले में पुलिस ने बुधवार को आरोपी पिता को काबू कर लिया है। यह बच्ची का तीसरा पिता था। दरअसल उसके पिता की मौत हो गई थी। उसकी मां ने जिससे दूसरी शादी की, वह छोड़कर भाग गया था और फिर महिला ने तीसरी शादी कर ली। इस शख्स ने बच्ची को सिर्फ इसलिए मार डाला कि मौसी के पास छोड़ी गई यह बच्ची बार-बार अपनी मां के पास आ जाती थी। इससे पहले भी आरोपी कई बार बच्ची को बुरी तरह पीट चुका था। अब पुलिस पूछताछ में उसने खुद यह बात कबूली है।  डीएलएफ क्राइम ब्रांच प्रभारी अशोक कुमार का कहना है कि बीते एक दिसंबर को एनआईटी थाने में हत्या का केस दर्ज किया गया था। केस की जांच आगे बढ़ी तो बच्ची के सौतेला पिता अर्जुन पर शक गया।
पुलिस ने आरोपी अर्जुन को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने बताया कि चार साल की साक्षी को उसकी मौसी के पास छोड़ रखा था। वह बार-बार यहां आ जाती थी, मना करने पर रोती थी तो इसी बात पर गुस्सा आ जाता था।  शनिवार को इसी गुस्से में बच्ची को इतना पीट दिया कि उसकी हालत खराब हो गई और फिर जब अस्पताल ले जाया गया तो वहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया। उसने यह भी बताया कि वहां से वह बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए रखने की बजाय वहां से जबरदस्ती घर ले आया।
 इसकी सूचना डॉक्टरों ने तुरंत पुलिस कंट्रोल रूम व स्थानीय पुलिस को दे दी तो केस दर्ज होने पर वह फरार हो गया। क्राइम ब्रांच अधिकारी अशोक ने बताया कि फिलहाल आरोपी अर्जुन को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया है। 
वहीं क्राइम ब्रांच अधिकारी ने खुलासा किया कि नीतू और अर्जुन ने जब विवाह किया था तो बच्ची को साक्षी को उसकी मौसी लीला देवी के पास छोड़ देने की बात हुई थी, लेकिन साक्षी अपनी मां के बिना नहीं रह पा रही थी। वह जिद करके मौसी के पास से मां के पास चली जाती थी। यही बात अर्जुन को गवारा नहीं था। वह उसे बेरहमी से पीटता और नीतू खड़े रहकर देखती रहती थी। अब बच्ची को इतना पीटा गया कि उसने घर में कराहते कराहते ही दम तोड़ दिया।
पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मिले चोट के 37 निशान
पीजीआई रोहतक से आई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद खुलासा हुआ है कि बच्ची के शरीर पर बाहर और अंदरूनी चोट के 37 निशान पाए गए हैं। बच्ची के जबड़े की हड्डी और पसलियां भी टूटी मिली।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


धीमी गेंदबाजी में फंसी वेस्टइंडीज टीम, जुर्माना लगा

हैमिल्टन (उत्तम हिन्दू न्यूज): न्यूजीलैंड के खिलाफ मंगलवार को...

सोशल मीडिया पर छाई विराट और अनुष्का की शादी, देखिए 35 खास तस्वीरें

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के सबसे चर्चित प्रेमी जोड़...

top