Tuesday, December 12,2017     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हरियाणा

एमडी और एनएचएम कर्मियों के बीच हुई वार्ता नहीं चढ़ी सिरे

Publish Date: December 07 2017 07:55:31pm

अंंबाला (राजेन्द्र भारद्वाज): एनएचएम कर्मचारियों की आज लगातार तीसरे दिन भी जारी रही। वहीं दूसरी ओर इस हड़ताल को देखते हुए आज एमडी एनएचएम ने एसोसिएशन के सदस्यों को वार्ता के लिए पंचकूला बुलाया था, लेकिन वहां यह वार्ता सिरे नहीं चढ़ पायी। एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना हैै कि एमडी एनएचएम ने उन्हें कहा कि उन्होंने सर्र्विस रूल बनाकर ऊपर भेज दिया है। अब एसोसिएशन की मांगे मानना उनके हाथ में ही है। इस पर एसोसिएशन ने कहा कि यदि उनकी मांगे नहीं मानी जाती तो वह भी हड़ताल जारी रखेंगे, फिलहाल बीत रोज यह हड़ताल दो दिन तक बढ़ा दी गई थी। एसोसिएशन का कहना है कि यदि जरूरी हुआ तो यह हड़ताल और आगे भी स्थगित की जा सकती है। एनएचएम के जो कर्मचारी एमरजेंसी सेवाओं में डयूटी दे रहे थे, वे भी कल से हड़ताल में शामिल हो गये थे, जिस कारण एंबुलेंस सेवाएं ठप्प होकर रह गई हैं। इस हड़ताल के चलते मरीज भी परेशान हो रहे हैं। जिला अध्यक्ष तरणदीप का कहना है कि सरकार हमें केंद्र की पोलिसी का हवाला देते हुए पक्का न करने की बात कह रहे हैं। तरणदीप ने कहा कि सरकार द्वारा एनएचएम कर्मचारियों की मांगो पर कोई ठोस कार्यवाही नहीं कर रही। तरूणदीप ने बताया कि हमारी मांग है कि प्रदेश भर के करीब 12500 एनएचएम कर्मचारियों को स्थाई सेवा सुरक्षा प्रदान की जाए। सभी कर्मचारियों को हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद की भांति सर्विस बायलाज बनाते हुए नियमित वेतनमान तुंरत प्रभाव से दिया जाए। एनएचएम कर्मचारियों की वार्षिक वेतन बढ़ौत्तरी को जल्द लागू किया जाए। कुछ कर्मचारियों को दिए जा रहे विशेष मानदेय की तरह सभी कर्मचारियों को यह मानदेय दिया जाए। तरूणदीप ने कहा कि सरकारी कर्मचारियों को हड़ताल की एवज मे वेतन दिया जाता है। उनकी तरह हड़ताल करने वाले अनुबंध कर्मचारियों को भी उस दिन का वेतन दिया जाए। एनएचएम कर्मचारियों की आपसी सहमति के आधार एवं रिक्त पद के विरूद्व स्थांतरण नीति एनएचएम नई दिल्ली एवं यूपी की तर्ज पर बनाई जाए। एनएचएम कर्मचारियों को दस-दस साल सेवा में हो चुके हैं, उन्हें भी अन्य विभागों में 3 साल की सेवा उपरांत पक्के किए कर्मचारियों की तर्ज पर स्थाई किया जाए। एनएचएम कर्मचारियों की सर्विस बुक बनवाई जाए। इस अवसर पर सर्व कर्मचारी संघ तथा भारतीय मजदूर संघ आदि संगठनों ने भी आंदोलन कर रहे कर्मचारियों का साथ दिया।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400023000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


धीमी गेंदबाजी में फंसी वेस्टइंडीज टीम, जुर्माना लगा

हैमिल्टन (उत्तम हिन्दू न्यूज): न्यूजीलैंड के खिलाफ मंगलवार को...

सोशल मीडिया पर छाई विराट और अनुष्का की शादी, देखिए 35 खास तस्वीरें

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के सबसे चर्चित प्रेमी जोड़...

top